नदी में भीगती इंडियन गांड

हेलो दोस्तों आप सबने नदी में तो खूब ही नहाया होगा, तो क्या नहाते हुए कभी इंडियन गांड मारने के बारे में सोचा थ?। मेरा नाम रमपत हरामी है, और मैं एक बाईसेक्सुअल हूं। आप जान लीजिए पेशे से मैं एक इंजीनियर हूं पर मेरा लंड एकदम गंवार ही समझो, चुदाई के मामले में यह गोरी अंगरेजी मैंमों के गांड से लेकर गांव की आंटियों की चूत में कोई फर्क नहीं करता है। मेरी यह कहानी मेरे किशोरावस्था के अनुभवों से जुड़ी हुई है। जब मैं कालेज में था तो मुझे जवानी के उफान के अंतिम चरण में पहुंचने का अहसास हो चुका था। उन्नीस साल में लंड का उफान चरम पर होता है।
जब मैं अपने गांव की नदी में नहाने जाता था तो वहां का नजारा देख कर मेरा लंड पानी के अंदर ही खड़ा हो जाता था। अक्सर मैं पानी के अंदर ही नदी में नहाती हुई लड़कियों के चूंचों,नंगी पीठ, गांड का आकार, इंडियन गांड में चिपके गीले कपड़े, और गांड में घुसती हुई भीगी साड़ी देख कर मूठ मार लेता था। पानी के अंदर रोमांस का अनुभव करने का मेरा मन बहुत कर रहा था।
शिकार की तलाश में रहमान की गांड पानी में चुदी

एक दिन बहुत लू चल रही थी, शिकार की तलाश में मैं वहीं नदी किनारे गमछा लेकर बैठा था कि कब कोई शिकार आए कि बस मैं च्ड्ढी पहन नदी में कूद जाउं और आज अगर चूत न मिले तो किसी लौंडे कि इंडियन गांड मार के ही साला गोबरौरा का जनम छुड़ाया जाये।
इसलिए मैने अपना इंतजार जारी रखा। अचानक से मुझे अपने नौकर का बेटा आता दिखा। वो बीए फर्स्ट में पढता था, बेचारा, था बड़ा शर्मीला पर मुझे वो गांडू लगता था। कमर मटका मटका के चलना, लड़कियों से हावभाव और फिर बड़ी इंडियन गांड। मैंने उसकी गांड मारने के बारे में सोच लिया। साला अपने काबू में जल्दी से आ जाने वाला था वो।
इसलिए मैने उसको बुलाया और कहा आओ नदी में छुआ छुऔव्वल का खेल खेलते हैं। तुम भागोगे और मैं तुम्हें पकड़ूंगा। जो जीतेगा उसके मन की बात करनी पड़ेगी। वो राजा होगा। जो कहेगा वो करना पड़ेगा। वो घोंचू साला रहमान, उसने मेरी बात मान ली।
मैने उसको छू कर पानी के अंदर गोता लगाया और वो भागता रहा मेरे पीछे। नहीं पकड़ पाया, थक के चूर हो गया और मैने तब कहा –“हार गया ना बेटा?”
उसने कहा हां रमपत मैं हार गया। उसने कहा अब चल तुझे मुझसे क्या कर वाना है? मैने कहा इधर आ। अब मेरे घुटने के नीचे बैठ। मैं गले भर पानी में था। वो समझ गया था, गांडू था साला। उसने बिना कहे मेरा अंगोछा पानी के अंदर खींच के खोल दिया और पहले से खड़े मेरे लंड को पकड़ कर मूठ मारने लगा। मेरा बड़ा लंड देख कर उसकी बांछे खिल गयीं थीं। वो एकदम खुश हो गया था। उसे तो ईनाम मिल गया था। मैने उसका लंड टटोला तो वो साला खतना किया हुआ छोटा सा लंड बिना किसी हलचल के पानी की लहरों में हिल रहा था। मैं समझ गया था कि वो गांडू क्यों बन गया।
अब जब उसने मेरे लंड को देसी हस्तमैथुन का मजा देते हुए मेरे अंड्कोषों को सहलाना शुरु किया तो मेरे मुह से पानी के ठंडे पन और लंड में दौड़ते गरम लहू के उत्तेजना का मिश्रण मुझे दीवाना कर ने लगा था। मैने उसको और जोर से करने को कहा और उसने जोरदार झटके लगाने शुरु कर दिये। थोड़ी देर में मैं आह्ह्ह!! आह्ह!! करते हुए झड़ गया।
झड़ने पर उसने पानी के अन्दर गोता लगाते हुए मेरे लंड को अपने मुह में लगा कर पूरा मूठ पी गया। वाह!! ये तो और भी बढिया है। मेरा लंड एक मिन्ट शांत रहा पर उन्नीस साल में लंड को दुबारा खड़े होने में उन्नीस सेकंड भी नहीं लगते हैं बीड़ू, देखते ही देखते वो दुबारा खड़ा हो गया।
अब मैने उसे पुल के पाये के पास आड़ में खड़ा कर दिया। उसके पीछे जाकर उसकी गांड पर लंड रगड़ते हुए उसके लंड को पकड़ के ऐंट दिया। वो मचलने लगा। उसको गांड मराने का मन कर रहा था। रहमान बोला – ऐ रमपत, साले तेरे को तो मैने मूठ मार के मजा दे दिया अब तू मेरी गांड मारके मुझे मजा दे दे यार!”
मैने कहा चल अपने हाथों से अपनी गांड को चौड़ा कर। उसने अपने हाथ पीछे करते हुए अपनी उंगलियों से गांड को फाड़ा। अब उसकी गांड पारदर्शी पानी में खुली दिखाई दे रही थी।
मैने अपना मोटा लंड उसकी इंडियन गांड के छेद पर रख कर उसकी कमर पकड़ ली, जिससे कि मोटे लंड के अंदर जाने पर वो हिल कर अपनी इंडियन गांड अलग न कर ले। बस जैसे ही धक्का मारा मैने, मेरा सुपाड़ा उसकी गांड में मुश्किल से आधा घुसा कि वो चिल्लाने लग गया “ साले मारोगे क्या, इतना मोटा है तेरा, मुझे नहीं मरानी अपनी गांड”।
मैने कहा “ अबे रुक थोड़ा टाइम दे, और मैने उसे जोर से पकड़ते हुए एक दूसरा जोर दार धक्का दिया। इस बार लंड आधा घुस गया, पर उसकी गांड से फटने की नौबत मुझे साफ दिख रही थी, टाइट पिस्टन की तरह एकदम मेरा लंड उसकी इंडियन गांड में घुसता चला गया। वो बेचैन होता दिखाई दिया कि तीसरे झटके ने आठ इंच के लंड के जड़ तक अंदर उसकी इंडियन गांड में धकेल ही तो दिया।
अब वो धक्के खाते हुए अपनी गांड मेरे हाथ में लय में नचाते हुए आगे पीछे करनी शुरु कर दी, थी। वो अपने अंडकोष सहलाते हुए और मेरे लंड को पकड़ कर अपने गांड में और अंदर ठेलते हुए पूरा मजा ले रहा था, अब उसे मेरे लंड की लंबाई कम लग रही थी। धक्का मारते हुए मैने उसकी इंडियन गांड के नली के हर इंच पर अपने लंड के सुपाड़े की मोहर लगा दी। वो लड़कियों की तरह मचलते हुए सिस्कारियां मार रहा था, उसकी टाईट इंडियन गांड किसी भी कंवारी चूत को लजा रहा था। इतना मजा तो सील तोड़ने में भी ना आए। आज मैं रहमान भाई की इंडियन गांड मारकर अत्यंत खुश हुआ था।

भीगी हसीना की गांड में पसीना चित्रशाला देसी लड़की की

देसी लड़की, हसीना की गांड में पसीना? यह है ना मजेदार सेक्सी बात, वैसे बतादें आपको चूत में चोदने पर तो कामरस निकलता है, पानी निकलता है, लेकिन गांड में? वहां तो पसीना ही होता है सरकार, पसीना जो लंड बहाता है टाईट गुदामैथुन में और पसीना जो गांड निकालती है मोटे लंड को अंदर लेने में। लेकिन अगर भीगी हसीना की गांड मारने को मिल जाये और वो भी बाथरुम के भीगे भीगे माहौल के अंदर तो फ़िर क्या कहने? ये खिली हुई कली जो अपना बदन दिखाने में कतरा रही है अभी मेरी फ़रमाईश पर अपना सारा सेक्सी जवानी का चमन खोल कर आपको दिखाएगी और बाद में मेरे से गांड भी मरवायेगी। इस लड़की की जवानी को देख आपका देसी लंड भी देसी ब्वायज की तरह रोक्को और हंटर बन जायेगा और आप भी इसकी सुन्दर गांड मारने को तैयार नजर आएंगे। इस लिये अपनी भावनाओं पर कंट्रोल करते हुए लंड का एक्सीलेटर थामे आप मेरे शब्दों पर ध्यान देते हुए मेरी इस सेक्सी कहानी को सुनते हुए धीरे धीरे आगे बढ़ें।
इस से आप सुरक्षित तौर पर देसी लड़की के मादक मजे का आनंद ले पायेंगे अन्यथा बिना निर्देशन के लंड को हार्ट अटैक होने का खतरा है और कहीं अगर लीक हो गया तो पाजामा खराब हो सकता है। और पाजामा खराब होगा तो फ़िर आपके लंड को चाटके साफ़ करने के लिये ये चुदासी देसी लड़की है तो सही, इसके मुह में आपका लंड बिल्कुल फ़िट आयेगा, इतना फ़िट कि अगर एक बार घुस गया तो फ़िर ना आप निकालने की कोशिश करेंगे ना लंड निकलना चाहेगा। इस तरह के मुखमैथुन के बाद तो आपकी चाहत चूत चटाई की भी हो जायेगी। अरे मैं तो आपको कहानी सुनाने वाला था। चिंता मत करिये मेरी मजाक करने की आदत है आईये चलते हैं देसी लड़की के हुस्न और उसकी इंडियन गांड की कहानी सुनने की तरफ़ आईये देखते हैं कहानी का अगला भाग अगली तस्वीर में।

बगल होकर अपनी गांड खोले मरवाने को तैयार देसी लड़की

बारिश में भीगे देसी लड़की की बदन के बारे में तो कवियों और लेखकों ने बहुत कुछ कहा है पर आज मैं आपको बारिश या पानी की फ़ुहार में भीगी गांड की खासियत बताउंगा। जब देसी लड़की की देसी इंडियन गांड बारिश में भीगती है और पानी ठंडा होता है तो साईंस के हिसाब से गांड सिकुड़ जाती है। और लड़की गरम होती है।
ऐसे में गरम लड़की की टंडी और सिकुड़ी गांड मारने का सुनहरा अवसर होता है और खास तौर से उन लोगों को जो अपनी प्रेमिका या पत्नि के भोसड़ा से बाज आ चुके हैं उनके लिये घर में ही उपलब्ध और सुगम साधन है गांड को नहला कर पेलना। मैं तो अपनी इस प्रेमिका की चूत और गांड की सेवाएं ऐसे ही लेता हूं। आज जब यह फ़िर एक बार से मुझे ऐसे घूर रही है मैं कुछ ऐसा ही करने वाला हूं, इसकी बेहतरीन देसी गांड मार कर अपने लंड को एक बार फ़िर गांड मार्ग के गुदामैथुन चुनौती को स्वीकार करता हूं। देखते रहिए देसी लड़की की चित्र्शाला

चूंचे पर पड़ती बौछार राजा मैं हूं अब तैयार देसी लड़की की आवाज

चूंचे पर लगते पानी के झटके आपकी याद दिला रहे हैं देसी लड़की को और इस लिये उसे अलग मजा आ रहा है, इससे आखिरी बार आपको चोदने का मौका मिलने वाला था और आप न जाएंगे तो फ़िर यह हाथ से निकल जायेगा। मेरे डिक्शनरी में चूत चोदने के लिये यह आदर्श टाइम है क्यों कि स्तन में वासना पूरे शबाब पर है, और अगर न चोदा जाये तो फ़िर सब गुड़ गोबर हो जाता है इसलिये मैं ऐसे मौके पर चौके मारते हुए इस पानी को अपनी जीभ लगा कर टेस्ट करता हूं, फ़िर चूंचे से नीचे जाती हुई धाराओं का अपनी जीभ से पीछा करता हूं।
यह पानी चूंचों की घाटियों में थोड़ी देर रुकता है और फ़िर उसके बाद कमर और नाभि से होता हुआ चूत तक आ जाता है। देसी लड़की की चूत में चूंचियों का पानी मिल जाए तो फ़िर क्या कहना दो दो संगम का मजा लेने के लिये मैं अपना मुह चूत के नीचे लगा देता हूं और सुपड़ सुपड़ यह पानी पी जाता हूं

देसी लड़की के बुम्बाट चूंचे जरा देखो किसने ना पूछे

आपकी झांटें सुलगती हैं कब कब? जब कोई देसी लड़की अपनी गांड मटका के शान से आपके लंड के सामने परेड कर जाती है तो शायद ऐसा होता हो, जब कोई विदेशी रंडी अपनी चूंचियां दिखाती हुई सामने से गुजर जाती हो तो शायद? अरे नहीं तो कमसे कम जब नयी नयी जवान देसी लड़की अपने नुकीली नुकीली चूंचों को देखते हुए सामने से आपको एक नजर देख कर चली जाये और चूत न मिले तो फ़िर लौड़ा खड़ा हो कर आपको जलाता है कि नहीं।
अब इस हसीना को देखिए जिसकी चूंचियां और झांटें सारी की सारी भीगे भीगे कपड़े में दिख रही हैं, पारदर्शी और नंगा बदन इस पीले कपड़े से सरसों के फ़ूल की तरह दिख रहा है, फ़ूलों की वादियों में जैसे कोई खूबसूरत कली हो वैसे ही इस पीले पीले दुपट्टे में से झांक रही है यह जवानी जो लंडों को गरम कर रही है, उनके लिये उतनी ही घातक है। और ऐसे सीन को देख कर मेरा मन तपाक से पलट कर इस गदराये देसी लड़की की भरी भरी गांड में लंड डाल देने को करता है

देसी लड़की के हसीन चूंचे की घाटियों में पलता है प्यार हमारा

देसी लड़की की प्यार की परीक्षा में ये भी शामिल है कि आप इन चूंचों की घाटियों को अपने लंड की नैया पर बैठ कर पार करो, खास तौर से जब इन पर पानी पड़ा हो और घाटियां फ़िसलन भरी हों। वैसे चूंचे भीगे हैं तो क्या है इनकी गरमी बरकरार है और आपके लंड को ठंड नही लगने वाली। इस पर अपना प्यार आप चाहे जैसे भी जता लें और जितना भी जता लें कम ही है।
मेरी महबूबा, जब मैं इसे प्यार करता हूं तो ऐसा महसूस करती है जैसे सारा मजा इन चूंचों के साथ खेलने में ही आ रहा है उसे। इस लिये इसने अपने मस्त चूंचों को अंगड़ाई लेने के बाद स्थिर कर दिया है क्यों कि होश वाले भी इन को देख मदहोश हो जाते हैं। कत्ले आम न हो जाये इस लिये इन बम जैसे चूंचों को छुपा भी लिया है। हल्के हल्के सहला कर आप इनको फ़टने से बचा सकते हैं और इस तरह देसी लड़की की जवानी और माल मतलब कि जान माल की सुरक्षा कर सकते हैं।

loading...

Leave a Reply